आपको देख कर देखता रह गया…..

होश आया था उस दिन जिस दिन रूप देखा तेरा,
अब तो मदहोश हो जाने को क्या, ज़िक्र ही काफ़ी तेरा ।।।।

मेरी पहली हिंदी पंक्तिया… ।