ना जाने क्यूँ…..

साथ जब तुम होते हो,
वक़्त भी ख़ामोशी से बदल जाता है,
नदी में जैसे गिरा हो कोई टूटता तारा,
मध्धम मध्धम रफ़्तार तेज़ सी जैसे हो जाती है,
कुछ धड़कनें मेरी भी,
ना जाने क्यूँ ,
ना जाने क्यूँ………

Translation won’t do justice to this but I will try. 

Whenever you are with me,
Time changes silently,
Like a Star that has fallen in a river,
Gently gently it’s speed  increases,
A few heartbeats mine too,
I don’t know why,
I don’t know why…..