घाव….

इंतज़ार और शायद है करना पड़ेगा वक़्त को अभी,
कुछ घाव कम्बख्त भरते नहीं…..

Let time wait a little more,

Some wounds are still afresh……….

Advertisements